केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल, पीयूष गोयल (Piyush Goyal) को मिला वित्त मंत्री का प्रभार

कर्नाटक में विधान सभा चुनाव का मतदान खत्म होने के दो दिन बाद ही केंद्रीय मंत्रिमंडल में काफी महत्वपूर्ण बदलाव किये गये हैं।

सबसे अहम बदलाव यह है कि अरुण जेटली के गुर्दा प्रत्यारोपन के सफल ऑपरेशन के बाद उन्हें स्वास्थ्य लाभ होने तक वित्त मंत्री के पद से अवकाश दिया गया है। सोमवार को ही जेटली का ऑपरेशन हुआ है। उनके स्वस्थ होने तक इस पद का प्रभार रेल मंत्री पीयूष गोयल को दिया गया है। गोयल के पास कोयला मंत्रालय भी है।
सोमवार देर शाम घोषित इस फेरबदल में स्मृति इरानी से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय छिन गया है। अब तक इसी मंत्रालय में राज्य मंत्री के रूप में काम कर रहे राज्यवर्द्धन सिंह राठौर को इस मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार दे दिया गया है। स्मृति इरानी के पास कपड़ा मंत्रालय की जिम्मेदारी बनी रहेगी। गौरतलब है कि वेंकैया नायडू के उपराष्ट्रपति पद के लिए चुने जाने के बाद इरानी को इस मंत्रालय का प्रभार सौंपा गया था।
एस. एस. अहलूवालिया का भी मंत्रालय बदला है। उन्हें स्वच्छता और पेयजल मंत्रालय में राज्य मंत्री के पद से हटा कर इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है। इस मंत्रालय का कार्यभार अब तक अल्फोंस कन्ननधनम के पास था, जो अब सिर्फ पर्यटन मंत्रालय का काम सँभालेंगे।
मई 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल में यह पाँचवाँ बदलाव हुआ है। इससे पहले नवंबर 2014, जुलाई 2016, सितंबर 2017 और जुलाई 2017 में मंत्रिमंडल में फेरबदल किये गये थे।
(शेयर मंथन, 15 मई 2018)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : नवंबर 2017 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"