बजाज ऑटो (Bajaj Auto) के मुनाफे में 15% गिरावट

भारत की प्रमुख दोपहिया कंपनी बजाज ऑटो ने जनवरी-मार्च 2017 की तिमाही में अपने मुनाफे में 15.5% की गिरावट दर्ज की है।

बिक्री कम रहने की वजह से कंपनी के मुनाफे पर असर पड़ा है। इसने 2016-17 की चौथी तिमाही में 802 करोड़ रुपये का मुनाफा हासिल किया, जबकि पिछले कारोबारी साल की समान तिमाही में इसका मुनाफा 949 करोड़ रुपये का था। कंपनी की कुल तिमाही आमदनी इस दौरान 5,967 करोड़ रुपये से घट कर 5,506 करोड़ रुपये पर आ गयी। इस तरह इसकी तिमाही आमदनी में 7.73% की गिरावट आयी।

कंपनी के सालाना आँकड़ों को देखें तो इसने 2016-17 में 3,828 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया, जो 2015-16 में हासिल 3,930 करोड़ रुपये के मुनाफे से 2.6% कम है। कंपनी के वाहनों की कुल बिक्री बीते कारोबारी साल में 5.8% घटी है। इसने 2015-16 में बिके 38.94 लाख वाहनों की तुलना में 2016-17 के दौरान 36.66 लाख वाहन बेचे।

आज के कमजोर बाजार में बजाज ऑटो का शेयर भाव पहले से ही कमजोर चल रहा था, मगर इन नतीजों के बाद इसमें बिकवाली का जोर बढ़ गया। यह शेयर बीएसई में 58.75 रुपये या 1.94% की गिरावट के साथ 2973.85 रुपये पर बंद हुआ। (शेयर मंथन, 18 मई 2017)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अगस्त 2016 अंक डाउनलोड करें

बातचीत

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

सूचकांक