वैश्विक बाजारों में बिकवाली के कारण सेंसेक्स, निफ्टी में भारी गिरावट

वैश्विक बाजारों में बिकवाली का गुरुवार को भारतीय शेयर पर काफी नकारात्मक असर पड़ा।

सेंसेक्स 34,000 के करीब और निफ्टी 10,200 के नीचे बंद हुआ। आज जिन क्षेत्रों के शेयरों में सर्वाधिक कमजोरी आयी है, उनमें पीएसयू बैंक, धातु, वाहन, फार्मा और आईटी शामिल हैं। डॉलर के मुकाबले रुपये में आयी मजबूती का भी बाजार पर कोई असर नहीं पड़ा। रियल्टी में भी 3% से अधिक की कमजोरी दर्ज की गयी। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के वैश्विक आर्थिक दर के लिए अनुमान घटाने से वैश्विक शेयर बाजारों में निवेशकों का आत्मविश्वास कम हुआ, जिसका एशियाई और अमेरिकी बाजार पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा।
बीएसई सेंसेक्स (BSE SENSEX) 34,760.89 अंकों के पिछले बंद स्तर के मुकाबले 34,063.82 पर खुला और कारोबार के दौरान 33,723.53 अंकों के निचले स्तर तक फिसला। आखिर में सेंसेक्स 759.74 अंक या 2.19% की गिरावट के साथ 34,001.15 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं एनएसई (NSE) का निफ्टी (Nifty) 10,460.10 के पिछले बंद स्तर की तुलना में 10,169.80 पर खुल कर 225.45 अंक या 2.16% की कमजोरी के साथ 10,234.65 पर बंद हुआ। आज निफ्टी का निचला स्तर 10,138.60 का रहा।
दूसरी तरफ छोटे-मँझोले बाजारों में भी तीखी बिकवाली देखने को मिली, जिससे बीएसई मिडकैप (BSE Midcap) में 2.34% और बीएसई स्मॉलकैप (BSE SmallCap) में 1.41% की कमजोरी आयी। वहीं निफ्टी मिडकैप 100 (Nifty Midcap 100) 2.34% और निफ्टी स्मॉल 100 (Nifty Small 100) 2.11% की गिरावट के साथ बंद हुए।
निफ्टी के प्रमुख 50 शेयरों में से 09 शेयरों में मजबूती और 41 शेयरों में कमजोरी आयी। बीएसई के 31 प्रमुख शेयरों में 03 शेयरों में मजबूती और 28 शेयरों में कमजोरी आयी। आज के कारोबार में सेंसेक्स के दिग्गज शेयरों में से ओएनजीसी में 2.86%, यस बैंक में 2.54% और हिंदुस्तान यूनिलीवर में 0.75% की बढ़त आयी। गिरने वाले शेयरों में से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 5.74%, टाटा स्टील में 4.60%, वेदांत में 4.45%, महिंद्रा ऐंड महिंद्रा में 4.44%, इन्फोसिस में 3.61% और अदाणी पोर्ट्स में 3.31% की कमजोरी दर्ज की गयी। (शेयर मंथन, 11 अक्टूबर 2018)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : नवंबर 2017 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"