अमेरिकी नियामक की जाँच के दायरे में आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) और चंदा कोचर

आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) और इसकी मुख्य कार्यकारी अधिकारी चंदा कोचर (Chanda Kochhar) भारत के बाद अब अमेरिकी बाजार नियामक सिक्योरिटीज ऐंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) के भी जाँच के घेरे में हैं।

खबर है कि एसईसी इस मामले में भारतीय बाजार नियामक सेबी (SEBI) से भी संपर्क कर सकती है। गौरतलब है कि वीडियोकॉन (Videocon) सहित कुछ कंपनियों को ऋण देने के मामले में चंदा कोचर पर 'हितों के टकराव' और 'सेवा के बदले लाभ' लेने के आरोप हैं। खबरों के अनुसार अभी एसईसी और आईसीआईसीआई बैंक की ओर से कोई बयान नहीं आया है।
आईसीआईसीआई बैंक और चंदा कोचर के खिलाफ वीडियोकॉन समूह को दिये गये एक कर्ज के मामले में भी जाँच चल रही है। बैंक ने 2012 में वीडियोकॉन समूह को 3,250 करोड़ रुपये का ऋण दिया था। चंदा कोचर के पति दीपक कोचर के शामिल होने की बात सामने आने के बाद से इस मामले ने तूल पकड़ा। दरअसल आरोप है कि वीडियोकॉन समूह ने दीपक कोचर की कंपनी न्यूपावर रिन्यूएबल्स में निवेश किया था। न्यूपावर को मॉरीशस की कंपनी फ‌र्स्ट लैंड होल्डिंग्स से भी निवेश मिला था।
उधर बीएसई में आईसीआईसीआई बैंक के शेयर पर इस खबर का कोई खास नकारात्मक असर नहीं पड़ा है। 288.30 रुपये के पिछले बंद भाव के मुकाबले आज यह 285.00 रुपये पर खुला। 11.50 बजे के आस-पास बैंक का शेयर 0.95 रुपये या 0.33% की हल्की कमजोरी के साथ 287.35 रुपये पर चल रहा है। (शेयर मंथन, 11 जून 2018)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : नवंबर 2017 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"