इस साल कृषि विकास दर 4.1% रहेगी : वित्त मंत्री

संसद में वित्तय मंत्री अरुण जेटली बजट पेश कर रहे हैं।

उन्होंने अपने शुरुआती भाषण में कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर बात की। उन्होंने कहा कि इस बार समय से पहले बजट पेश किया। आम और रेल दोनों बजट एकसाथ पेश करना एक ऐतिहासिक कदम है। वित्त मंत्री ने कहा कि इस बजट में 3 बड़े रिफॉर्म किये जायेंगे और आगे भी रिफॉर्म जारी रहेंगे। इस बजट में ग्रामीण और इन्फ्रा पर विशेष दिया गया है। इसके अलावा नोटबंदी के कुछ फायदे भी उन्होंने गिनवाये, जिनमें कम दर पर ब्याज, लंबी अवधि में फायदा, डिजिटल इकोनॉमी को बढ़ावा, बैंकों में दरें घटाने की गुंजाइश, भ्रष्टाचार टैक्स चोरी और कालेधन पर लगाम जैसी चीजें शामिल हैं। भारत को सबसे तेज बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था करार देते हुए जेटली ने कहा कि इस साल कृषि विकास दर 4.1% और महँगाई दर 2-6% के दायरे में रहेगी। फसल बीमा योजना कवरेज 30% से बढ़ाकर 40%, रिकॉर्ड 10 लाख करोड़ रुपये एग्री क्रेडिट का प्रावधान, नाबार्ड को कोर बैंकिंग और 1,900 करोड़ रुपये की सहायता दी जायेगी। इसके साथ ही डेयरी विकास के लिए ऑपरेशन फ्लड को बढ़ावा दिया जायेगा। (शेयर मंथन, 01 फरवरी 2017)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अगस्त 2016 अंक डाउनलोड करें

बातचीत

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

सूचकांक