आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एसेट मैनेजमेंट कंपनी की एयूएम 3,19,640 करोड़ रुपये

देश में म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) उद्योग की कुल प्रबंधन अधीन संपत्ति (एयूएम) 25.2 लाख करोड़ रुपये की हो गयी हैं।

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज (ICICI Securities) की रिपोर्ट के अनुसार इनमें 43% हिस्सा इक्विटी संबंधित योजनाओं का है, जबकि 30% डेब्ट और बाकी 24% हिस्सेदारी लिक्विड फंडों की है। गौरतलब है कि कुल एयूएम का 81% हिस्सा देश की प्रमुख संपत्ति प्रबंधन कंपनियों (एएमसी) के पास है, जिनमें 3,19,640 करोड़ रुपये के साथ आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एएमसी पहले नंबर पर है। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एएमसी की कुल एयूएम में से 1,22,202 करोड़ रुपये इक्विटी और 1,65,103 करोड़ रुपये डेब्ट योजनाओं में हैं, जबकि बाकी 32,335 करोड़ रुपये कंपनी की अन्य योजनाओं में आये हैं।
इसके बाद 3,13,872 करोड़ रुपये की एयूएम के साथ एचडीएफसी एएमसी दूसरे और 2,61,357 की एयूएम वाली एसबीआई फंड्स मैनेजमेंट तीसरे नंबर पर है। प्रमुख म्यूचुअल फंड कंपनियों में आदित्य बिड़ला सन लाइफ एएमसी (2,59,796 करोड़ रुपये), रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट (2,55,919 करोड़ रुपये), यूटीआई एएमसी (1,75,750 करोड़ रुपये), कोटक महिंद्रा एएमसी (1,36,327 करोड़ रुपये), फ्रेंकलिन टेम्प्लेटन एसेट मैनेजमेंट (1,16,184 करोड़ रुपये), डीएसपी इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (98,790 करोड़ रुपये) और ऐक्सिस एएमसी (92,870 करोड़ रुपये) शामिल हैं।
गौरतलब है कि अगस्त 2018 में इक्विटी योजनाओं में 9,500 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश आया है, जिससे इक्विटी योजनाओं की कुल एयूएम 10.45 लाख करोड़ रुपये के सर्वकालिक शिखर पर पहुँच गयी है। (शेयर मंथन, 13 सितंबर 2018)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : नवंबर 2017 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"