छोटे कारोबारियों के लिए रेडिंग्टन का गूगल क्लाउड के साथ करार

इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस मुहैया कराने वाली कंपनी रेडिंग्टन इंडिया ने गूगल क्लाउड इंडिया के साथ करार किया है।

 कंपनी ने यह करार ड्राइव डिस्ट्रीब्यूशन के लिए किया है। साथ ही गूगल वर्कशॉप और क्लाउड को अपनाने के लिए यह करार किया गया है। यह करार छोटे और मध्यम कारोबार के लिए किया गया है। कंपनी की इस करार के जरिए देशभर में गूगल की क्लाउड आधारित सेवाओं की मांग को पूरा करने का लक्ष्य है। आपको बता दें कि पब्लिक क्लाउड सर्विस मार्केट के सालाना 24 फीसदी से ग्रोथ की उम्मीद है। एक अनुमान के मुताबिक 2026 तक गूगल क्लाउड सर्विस का मार्केट 1350 करोड़ डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है। रेडिंग्टन और गूगल क्लाउड का मौजूदा और संभावित साझीदारों को एमपावर (सशक्त) करना है। कारोबार और तकनीकी विशेषज्ञ ग्राहकों को संसाधन विकसित करने के साथ उन्हें मदद और प्रबंधन के गुर सिखाएंगे। इस पहल से साझीदार नेटवर्क के जरिए कारोबार के लिए गूगल क्लाउड अपनाने में तेजी आएगी। रेडिंग्टन लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश नटराजन के मुताबिक हाल के सर्वे में इस बात का खुलासा हुआ है कि बाजार में क्लाउड सर्विसेज की काफी मांग है। हालाकि क्लाउड इनोवेशन और कारोबारियों की ओर से तकनीक को अपनाने की गति के बीच काफी अंतर है। इस करार से छोटे और मध्यम कारोबार के लिए प्रासंगिक क्लाउड सर्विस और सॉल्यूशंस की खरीद और डिलिवरी में तेजी आएगी। छोटे और मध्यम कारोबारी कंपनी के बड़े नेटवर्क और भरोसेमंद साझीदार के जरिए अपने कारोबार को बढ़ाएंगे। गूगल क्लाउड (वैश्विक वितरण) के निदेशक एरिक बक ने कहा कि, हमें रेडिंग्टन के साथ काम करने पर गर्व है। इस बात की खुशी है कि और ग्राहक तकनीक के साथ जुड़ रहे हैं। साथ ही विशेषज्ञों की मदद से छोटे और मध्यम कारोबारी अपने कारोबार को डिजिटल तरीके से बदल पाएंगे।  

(शेयर मंथन 15 सितंबर, 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"