सन फार्मा को ऑर्फन ड्रग के लिए यूएसएफडीए से मंजूरी

सन फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्रीज को अमेरिकी ड्रग रेगुलेटर यानी यूएसएफडीए (USFDA) से एक फॉर्मूलेशन के लिए मंजूरी है। इसका नाम 'SEZABY' है। इसका इस्तेमाल छोटे बच्चों में मिर्गी के इलाज के लिए किया जाता है।

 SEZABY इंजेक्शन लिए फिनोबारबिटल सोडियम पाउडर का बेंजाइल एल्कोहल मुक्त और प्रोपाइलिन ग्लाइकोल मुक्त फॉर्मूलेशन है। इस दवा को अमेरिकी ड्रग रेगुलेटर यानी यूएसएफडीए (USFDA) ने इसे ऑर्फन (Orphan) ड्रग का दर्जा दिया है। ऑर्फन ड्रग उन दवाओं को कहा जाता है, जिनका उपयोग वैसे बीमारियों के इलाज में किया जाता है, जिनके होने की संभावना बहुत ही कम होती है। यही कारण है कि दवा बनाने वाली कंपनियां बिना सरकारी मदद के इसे बनाने में दिलचस्पी नहीं लेती हैं। अमेरिका में ऑर्फन ड्रग का दर्जा वैसी दवाइयों को दी जाती है जिसके मरीजों की संख्या 2 लाख से भी कम है। यही नहीं इन दवाइयों के मंजूरी मिलने के 7 साल के बाद भी मुनाफे की स्थिति में नहीं आ पाता है। अमेरिका में ऑर्फन ड्रग का दर्जा पाने वाला यह पहला उत्पाद है। इसका इस्तेमाल नवजात शिशुओं में मिर्गी के इलाज में किया जाता है। यह दवा अमेरिकी बाजार में वित्त वर्ष 2023 के चौथी तिमाही में उपलब्ध होने की उम्मीद है। सन फार्मा की सब्सिडियरी कंपनी सन फार्मा एडवांस्ड रिसर्च कंपनी लिमिटेड (SPARC) ने 'SEZABY' का लाइसेंस सन फार्मा को दिया था। इसके तहत SEZABY की मंजूरी के साथ ही यूएसएफडीए से स्पार्क (SPARC) को भुगतान होगा।

 (शेयर मंथन, 21 नवंबर 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"