नाइट्रिक एसिड की आपूर्ति के लिए दीपक फर्टिलाइजर और आरती इंडस्ट्रीज के बीच करार

केमिकल सेक्टर की दो दिग्गज कंपनियां आरती इंडस्ट्रीज और दीपक फर्टिलाइजर ने लंबी अवधि के करार का ऐलान किया है। दोनों कंपनियों ने यह करार 20 साल की अवधि के लिए किया है। दोनों कंपनियों ने बाइडिंग टर्म शीट पर हस्ताक्षर किया है।

 मौजूदा वित्त वर्ष के अंत तक इस पर औपचारिक समझौते का ऐलान हो जाएगा। नाइट्रिक एसिड की आपूर्ति 2023 के पहली अप्रैल से शुरू हो जाएगा। आपको बता दें कि दीपक फर्टिलाइजर दक्षिण-पूर्व एशिया में नाइट्रिक एसिड का सबसे बड़ा उत्पादक है। वहीं आरती इंडस्ट्रीज लिमिटेड भारत में नाइट्रिक एसिड का सबसे बड़ा उपभोक्ता है। केमिकल सेक्टर की दो भारतीय कंपनियों के बीच लंबी अवधि का यह करार काफी अहम है। दोनों कंपनियां एक-दूसरे की जरुरतों को पूरा करने के साथ आपसी हितों का भी ख्याल रखेंगी। इस करार से दोनों कंपनियों के बीच संबंध और मजबूत होंगे। लंबी अवधि के इस करार से आरती इंडस्ट्रीज को काफी फायदा मिलेगा। इससे आरती इंडस्ट्रीज की ज्यादातर कच्चे माल की जरूरतें पूरी हो जाएंगी।

दीपक फर्टिलाइजर के देशभर में कई जगह इकाई हैं जहां पर नाइट्रिक एसिड का उत्पादन होता है। कच्चे माल की सुनिश्चितता होने से आरती इंडस्ट्रीज भविष्य में वृद्धि के अवसर को तलाशने और उसके क्रियान्वयन पर ज्यादा फोकस कर सकेगी। देशभर में नाइट्रिक एसिड की मांग में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। इस सौदे से दोनों कंपनियों को फायदा होगा। डीएफपीसीएल (DFPCL) यानी दीपक फर्टिलाइजर की अपने सब्सिडियरी के साथ नाइट्रिक एसिड की क्षमता 8.9 लाख मीट्रिक टन है। आपको बता दें कि दीपक फर्टिलाइजर क्रॉप न्यूट्रिशन यानी फसल पोषण,माइनिंग केमिकल्स और इंडस्ट्रियल केमिकल सेक्टर में अग्रणी है। कंपनी के इस लंबी अवधि के करार से 20 साल में 8000 करोड़ रुपये की आय होगी। इस करार के बाद दीपक फर्टिलाइजर का शेयर एनएसई (NSE) पर 8.39% फीसदी चढ़ कर 831.70 प्रति शेयर पर बंद हुआ। वहीं आरती इंडस्ट्रीज का शेयर एनएसई (NSE) पर 2.31% चढ़ कर 668.50/शेयर पर बंद हुआ।

(शेयर मंथन, 21 नवंबर 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"