बजाज फाइनेंस का पहली तिमाही में मुनाफा 159% बढ़कर 2596 करोड़ रुपये दर्ज

वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में मुनाफा 2596 करोड़ रुपये रहा जबकि 2200 करोड़ रुपये मुनाफे का अनुमान था। मुनाफा 1002 करोड़ रुपये से बढ़कर 2596 करोड़ रुपये रहा।

 कंपनी की ब्याज से होने वाली आय यानी नेट इंटरेस्ट इनकम (NII) 4488.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 6638 करोड़ रुपये दर्ज हुआ। कंपनी के एनआईआई में 48% की बढ़ोतरी देखी गई। कंपनी के मुताबिक तिमाही आधार पर अब तक सबसे ज्यादा कंसो मुनाफा रहा है। पहली तिमाही में कंपनी का एसेट अंडर मैनेजमेंट यानी एयूएम (AUM) 28% बढ़कर 2.04 लाख करोड़ रुपये रहा है। पिछले साल इसी अवधि में एयूएम 1.59 लाख करोड़ रुपये था। सालाना आधार पर कंपनी का ग्रॉस NPA यानी गैर निष्पादित संपत्तियां 2.96% से घटकर 1.25% रहा है, वहीं नेट आधार पर गैर निष्पादित संपत्तियां 1.46% से घटकर 0.51% दर्ज हुआ। कंपनी का प्रोविजन 57% घटकर 755 करोड़ रुपये रहा है। पिछले साल कंपनी का प्रोविजन 1750 करोड़ रुपये था। कंपनी का लोकन बुक 60% बढ़कर 74.2 लाख रहा जो कि पिछले साल इसी अवधि में 46.3 लाख था। एनएसई (NSE) पर कंपनी का शेयर 2.29% जबकि बीएसई (BSE) पर 2.14% चढ़ कर बंद हुआ।

(शेयर मंथन 27 जुलाई, 2022)

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"