रिलायंस कम्युनिकेशंस (Reliance Communications) ने चुकाया एरिक्सन (Ericsson) का कर्ज

रिलायंस कम्युनिकेशंस (Reliance Communications) या आरकॉम ने स्वीडिश कंपनी एरिक्सन (Ericsson) का बकाया ऋण चुका दिया है।

इसके साथ ही अनिल अंबानी (Anil Ambani) और आरकॉम के दो निदेशकों के जेल जाने का संकट खत्म हो गया है। मार्च के पहले सप्ताह में उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) ने आरकॉम के अध्यक्ष अनिल अंबानी और दो अन्य निदेशकों को अवमानना का दोषी करार देते हुए उन्हें 4 हफ्तों के अंदर एरिक्सन की 453 करोड़ रुपये की बकाया राशि लौटाने का दिया था। एरिक्सन को आरकॉम से 4622 करोड़ रुपये मिले हैं।
उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि रिलायंस की तीनों कंपनियों की मंशा बकाया रकम का भुगतान करने की नहीं थी, इसलिए यह अदालत की अवमानना है। अदालत ने मामले में रिलायंस की बिना शर्त माफी स्वीकार करने से भी इंकार कर दिया था।
वहीं रिलायंस कम्युनिकेशंस और रिलायंस जियो (Reliance Jio) के बीच लंबित स्पेक्ट्रम सौदा आपसी सहमति से समाप्त कर दिया गया है। सौदे के तहत रिलायंस कम्युनिकेशंस, रिलायंस जियो को अपने स्पेक्ट्रम बेचती। यह सौदा कंपनी के ऋण को चुकाने के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा था।
दूसरी तरफ बीएसई में रिलायंस कम्युकेनिशंस का शेयर 4.00 रुपये के पिछले बंद स्तर के मुकाबले सीधे 10% उछाल के साथ 4.40 रुपये के ऊपरी सर्किट पर खुला है। सुबह पौने 10 बजे के करीब यह 4.40 रुपये के ही भाव पर है। वहीं पिछले 52 हफ्तों में कंपनी के शेयर का सर्वाधिक भाव 26.25 रुपये और निचला स्तर 3.96 रुपये रहा है। (शेयर मंथन, 19 मार्च 2019)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"