ऐक्सिस बैंक के नतीजे अनुमान से बेहतर, सिटी बैंक सौदे के लिए सीसीआई से मंजूरी का इंतजार

वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में ऐक्सिस बैंक का मुनाफा करीब दोगुना बढ़कर 4,125 करोड़ रुपये हुआ है।

 कंपनी के मुनाफे में हुई इस बढ़ोतरी के पीछे एनपीए (NPA) यानी बैड लोन में कमी आना रहा। एक्सचेंज को दी गई जानकारी में बैंक ने बताया है कि पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में मुनाफा 2,160 करोड़ रुपये रहा था। बैंक के एसेट क्वालिटी में भी सुधार देखने को मिला है। ग्रॉस नॉन परफॉर्मिंग एसेट GNPA यानी (जीएनपीए) भी तिमाही आधार पर 2.82% से घटकर 2.76% रहा। वहीं नेट नॉन परफॉर्मिंग एसेट NNPA यानी (एनएनपीए) 0.73% से घटकर 0.64% रहा। टैक्स और कंटींजेंसी को छोड़ दें तो प्रोविजन में कई गुना गिरावट देखने को मिला है और यह पिछले साल के 3,302 करोड़ रुपये के मुकाबले 359.36 करोड़ रुपये तक आ गया है। बैंक के एनआईआई यानी (NII) ब्याज से कुल आय 21 फीसदी बढ़कर 9,384 करोड़ रुपये हो गया है। कंसोलिडेटेड आधार पर ऐक्सिस बैंक का मुनाफा 84 फीसदी बढ़कर 4,389.22 करोड़ रुपये आया है। वहीं पिछले साल यह 2,374.50 करोड़ रुपये था। तिमाही आधार पर नेट इंटरेस्ट मार्जिन यानी NIM 3.49% से घटकर 3.6% रहा। कंपनी के फी आय में 34% की बढ़ोतरी देखने को मिली है। वहीं सालाना आधार पर रिटेल लोन में 25% की बढ़ोतरी हुई है। ऐक्सिस बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ चौधरी ने कहा कि सिटीबैंक इंडिया के कारोबार का अधिग्रहण वित्त वर्ष 2023 के चौथी तिमाही तक पूरा होने की उम्मीद है। बैंक को सीसीआई यानी (CCI) कंपीटिशन कमीशन ऑफ इंडिया से मंजूरी का इंतजार है। आपको बता दें कि मार्च में ऐक्सिस बैंक ने सिटी बैंक के ग्राहक कारोबार का अधिग्रहण 160 करोड़ डॉलर में किया था। यह सौदा पूरी तरह से नकदी में हुआ था। इस सौदे में क्रेडिट कार्ड, रिटेल बैंकिंग,वेल्थ प्रबंधन और कंज्यूमर लोन शामिल था। बैंक के तिमाही आंकड़े जारी होने के बाद कॉनकॉल में चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर यानी सीएफओ (CFO) ने क्रेडिट ग्रोथ पर किसी तरह का गाइडेंस नहीं दिया लेकिन इतना भरोसा दिलाया कि बैंक की योजना इंडस्ट्री की ग्रोथ से ज्यादा रखने की है।

(शेयर मंथन 25 जुलाई, 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"