तो वरुण बेवरेजेज (Varun Beverages) को इसलिए मिली भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग की मंजूरी

प्रमुख पेय उत्पाद कंपनी वरुण बेवरेजेज (Varun Beverages) को भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (Competition Commission of India) या सीसीआई की मंजूरी मिल गयी है।

कंपनी को सीसीआई ने पेप्सीको इंडिया से दक्षिण और पश्चिम क्षेत्रों में फ्रेंचाइजी अधिकार के प्रस्तावित अधिग्रहण के लिए हरी झंडी दिखायी है।
इससे पहले फरवरी में दक्षिण और पश्चिम क्षेत्रों के 7 राज्यों और 5 केंद्र शासित राज्यों में बॉटलिंग, बिक्री और वितरण फ्रेंचाइजी अधिकार हासिल करने के लिए वरुण बेवरेजेज को पेप्सिको के साथ करार करने के लिए निदेशक मंडल की मंजूरी मिल गयी थी।
अधिग्रहण के बाद वरुण बेवरेजेज भारत में पेप्सिको के लिए 22 राज्यों और 2 केंद्र शासित राज्यों में फ्रेंचाइजी कंपनी बन जायेगी।
वरुण बेवरेजेज पेप्सिको के स्वामित्व वाले ब्रांडों के तहत बेचे जाने वाले कार्बोनेटेड और गैर-कार्बोनेटेड पेय पदार्थों की दुनिया में सबसे बड़ी फ्रेंचाइजियों में से एक है।
दूसरी तरफ बीएसई में वरुण बेवरेजेज का शेयर 809.45 रुपये के पिछले बंद स्तर के मुकाबले 805.50 रुपये पर खुल कर अभी तक के कारोबार में 790.10 रुपये के निचले स्तर तक फिसला है।
करीब 11.50 बजे कंपनी का शेयर 9.20 रुपये या 1.14% की गिरावट के साथ 800.25 रुपये पर चल रहा है। इस भाव पर कंपनी की बाजार पूँजी 14,616.69 करोड़ रुपये है। वहीं पिछले 52 हफ्तों में कंपनी के शेयर का सर्वाधिक भाव 849.00 रुपये और निचला स्तर 592.80 रुपये रहा है। (शेयर मंथन, 25 मार्च 2019)

Add comment

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : जून 2020 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"