एनएचडीसी से फ्लोटिंग सोलर प्रोजेक्ट के लिए टाटा पावर सोलर सिस्टम को मिला ऑर्डर

टाटा पावर सोलर सिस्टम को एनएचडीसी से 596 करोड़ रुपये का ऑर्डर मिला है। कंपनी को यह ऑर्डर 125 मेगावाट फ्लोटिंग सोलर प्रोजेक्ट लगाने के लिए मिला है।

 टाटा पावर रिन्युएबल एनर्जी लिमिटेड की सब्सिडियरी (TPREL) कंपनी है। एनएचडीसी ने साल के शुरू में प्रोजेक्ट के लिए बोली मंगाई थी। यह प्रोजेक्ट मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के ओमकारेश्वर के करीब है। यह भारत के सबसे बड़े फ्लोटिंग सोलर प्रोजेक्ट में से एक होगा। टाटा पावर का TPREL यानी टीपीआरईएल में 93.94% हिस्सेदारी है। आपको बता दें कि एनएचडीसी एक संयुक्त उपक्रम है जिसमें एनएचपीसी और मध्य प्रदेश सरकार की हिस्सेदारी है। कंपनी को एलओए (LoA) टैरिफ आधारित कंपीटिटिव बिडिंग के आधार पर मिली है। लेटर ऑफ अवॉर्ड के मिलने के 13 महीने के अंदर प्रोजेक्ट को पूरा करना होगा। साथ ही मध्य प्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड को सतत आधार पर बिजली मुहैया करानी होगी। टाटा पावर रिन्युएबल एनर्जी लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष खन्ना ने कहा कि टाटा पावर सोलर के लिए यह प्रोजेक्ट काफी महत्वपूर्ण है। मुझे खुशी है कि इसमें कंपनी के साछ एनएचडीसी (NHDC) भी जुड़ी हुई है। इस साझेदारी से अलग-अलग सेक्टर्स के लिए ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देने के लिए हमारे काम और प्रोजेक्ट को पूरा करने की विविधता सामने आएगी। फ्लोटिंग सोलर प्रोजेक्ट रिन्युएबल इंडस्ट्री के लिए गेम चेंजर है। यह प्रोजेक्ट हमारी क्षमता को दर्शाता है कि कंपनी कैसे कम समय में प्रोजेक्ट को पूरा करने में सक्षम है। इस ऑर्डर के साथ कंपनी की कुल यूटिलिटी स्केल सोलर प्रोजेक्ट पोर्टफोलियो बढ़कर 9.8 GWp (गीगा वाट) हो गया है। वहीं कंपनी का कुल ऑर्डर बुक 14,908 करोड़ रुपये का हो गया है।

 (शेयर मंथन 14 सितंबर, 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"