एचपीपीएल, एसपीपीएल का अधिग्रहण करेगी जेके पेपर

पेपर ऐंड पैकेजिंग बोर्ड कंपनी जेके पेपर बोर्ड ने दो कंपनियों के अधिग्रहण को मंजूरी दे दी है। कंपनी दो कंपनियों के अधिग्रहण पर 578 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। कंपनी Horizon Packs Private Ltd (HPPL) यानी हॉरिजन पैक्स प्राइवेट लिमिटेड और Securipax Packaging Private Ltd (SPPL) यानी सिक्योरिपैक्स पैकेजिंग प्राइवेट लिमिटेड का चरणबद्ध तरीके से अधिग्रहण करेगी।

 HPPL और SPPL गत्ता के नामी उत्पादक हैं। इन दोनों कंपनियों के देशभर में 7 इकाई हैं। जेके पेपर ने अधिग्रहण के लिए शेयर खरीद समझौता किया है। इसके साथ ही शेयरधारकों के साथ भी समझौता किया है। जेके पेपर हॉरिजन पैक्स प्राइवेट लिमिटेड और सिक्योरिपैक्स पैकेजिंग प्राइवेट के 85 फीसदी हिस्से का अधिग्रहण करेगी। बाकी के 15 फीसदी हिस्से का अधिग्रहण 3 साल केअंदर करेगी। जेके पेपर हॉरिजन पैक्स प्राइवेट लिमिटेड के 26.92 करोड़ इक्विटी शेयर का अधिग्रहण करेगी। शेयरों का अधिग्रहण 19.33 प्रति शेयर के भाव पर करेगी। वहीं जेके पेपर सिक्योरिपैक्स पैकेजिंग प्राइवेट लिमिटेड के 4.63 लाख इक्विटी शेयर का अधिग्रहण 1,256.95 प्रति शेयर के भाव से करेगी। यह कंपनी के 85 फीसदी हिस्से के बराबर है। हॉरिजन पैक्स प्राइवेट लिमिटेड का गठन 2021 में हुआ था जिसका मुख्यालय मुंबई में है और देशभर में 6 उत्पादन इकाई हैं। वहीं दिल्ली मुख्यालय वाले एसपीपीएल का गठन 1980 में हुआ था। कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग इकाई उत्तराखंड के रुड़की में है। देश के सबसे बड़े पैकेजिंग सेगमेंट के साथ करार काफी अहम है। जेके पेपर लुधियाना में (corrugated) गत्ता उत्पादन की नई इकाई लगा रही है। इसके बाद कंपनी गत्ता बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी। जेके पेपर की शुरुआत 1962 में हुई थी। कंपनी का कारोबार 660 देशों में फैला हुआ है।

 (शेयर मंथन, 23 नवंबर 2022)

 

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"