बेस मेटल की कीमतों में तेजी का रुझान - एसएमसी

बेस मेटल की कीमतों में तेजी का रुझान रहने की संभावना हैं। तांबे की कीमतों में तेजी का रुझान रहने की संभावना है और कीमतों को 729 रुपये के स्तर पर बाधा के साथ 720 रुपये के स्तर पर सहारा रह सकता है।

राष्ट्रीय दिवस की लंबी छुट्टी के बाद पहले कारोबारी दिन की सुबह आज शंघाई बेस मेटल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है और एलएमई पर भी कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। वेले एसए ने हाल ही में घोषणा की कि उसने ब्राजील में अपनी सालोबो खदान में तांबे के कंसेन्टेंशन के उत्पादन को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है, क्योंकि आग से एक कन्वेयर बेल्ट आंशिक रूप से प्रभावित हुई है। शंघाई फ्यूचर्स एक्सचेंज के गोदामों में तांबे का स्टॉक जून 2009 के बाद से अपने सबसे निचले स्तर पर है, और एलएमई ऑन-वारंट इन्वेंट्री केवल एक सप्ताह में 27% की गिरावट के साथ 90,725 टन रह गिर गयी।
जिंक की कीमतों के तेजी के रुझान के साथ सीमित दायरे में रहने की संभावना है और कीमतों को 262 रुपये के स्तर पर अड़चन के साथ 258 रुपये, लेड की कीमतें तेजी के रुझान के साथ 180-183 रुपये के दायरे में कारोबार कर सकती हैं। निकल में निचले स्तर पर खरीदारी हो सकती है और कीमतों को 1,422 रुपये के स्तर पर सहारा के साथ 1,445 रुपये के स्तर पर अड़चन रह सकता है।

एल्युमीनियम की कीमतों को 239 रुपये के स्तर पर बाधा के साथ 235 रुपये के स्तर पर सहारा रह सकता है। ऑपरेटिंग पार्टनर नोबल ग्रुप होल्डिंग्स ने कहा है कि जमैका में एक एल्यूमिना रिफाइनरी, जो आग से क्षतिग्रस्त हो गयी थी और अगस्त में बंद हो गयी थी, के 100% उत्पादन पर सितंबर 2022 के अंत तक वापस आने की उम्मीद नहीं है। (शेयर मंथन, 08 अक्टूबर 2021)

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"