भारत-22 ईटीएफ (Bharat-22 ETF) : दूसरे एफएफओ (FFO) को 14 गुना से अधिक आवेदन

भारत-22 ईटीएफ (Bharat-22 ETF) के दूसरे फॉलो-ऑन-ऑफर (एफएफओ) को 14 गुना से अधिक आवेदन भेजे गये हैं।

एफएफओ को करीब 50,000 करोड़ रुपये के आवेदन मिले, जबकि मूल इश्यू आधार 3,500 करोड़ रुपये था। बता दें कि केंद्र सरकार इस इश्यू में 13,000 करोड़ रुपये अपने पास रखेगी। भारत-22 ईटीएफ का दूसरा एफएफओ गुरुवार 14 फरवरी को केवल एक दिन के लिए खुला था।
बता दें कि वे केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्रक उद्यम (सीपीएसई) जो भारत -22 ईटीएफ का हिस्सा हैं, उनमें ओएनजीसी, इंडियन ऑयल, एसबीआई, भारत पेट्रोलियम, कोल इंडिया, नाल्को, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स, इंजीनियर्स इंडिया, एनबीसीसी, एनटीपीसी, एनएचपीसी, एसजेवीएनएल, गेल, पावर ग्रिड और एनएलसी इंडिया शामिल हैं। एसबीआई के अलावा भारत-22 ईटीएफ में दो अन्य सरकारी बैंक, इंडियन बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा, मौजूद हैं।
गौरतलब है कि सरकार ने भारत-22 ईटीएफ से अब तक 22,900 करोड़ रुपये जुटाये हैं। इसमें 14,500 करोड़ रुपये नवंबर 2017 में और 8,400 करोड़ रुपये जून 2018 में जुटाये गये। केंद्र सरकार ने 11 सरकारी कंपनियों वाले सीपीएसई ईटीएफ से भी नवंबर 2018 में 17,300 करोड़ रुपये जुटाये थे।
जानकारों का मानना है कि भारत-22 ईटीएफ के नये इश्यू के जरिये चालू वित्त वर्ष के लिए सरकार को अपने 80,000 करोड़ रुपये के विनिवेश लक्ष्य पूरा करने में मदद मिलेगी। (शेयर मंथन, 15 फरवरी 2019)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : नवंबर 2017 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"