एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी की एयूएम बढ़ कर 3,39,178 करोड़ रुपये

म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) उद्योग की कुल प्रबंधन अधीन संपत्ति (एयूएम) जनवरी में बढ़ कर 23.4 लाख करोड़ रुपये की हो गयी।

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज (ICICI Securities) की रिपोर्ट के अनुसार लिक्विड फंडों में निवेश से एयूएम में इजाफा हुआ है। दिसंबर 2018 की समाप्ति पर कुल म्यूचुअल फंड एयूएम 22.8 लाख करोड़ रुपये थी।
रिपोर्ट के अनुसार एसआईपी (SIP) का बेहतर प्रदर्शन बरकरार है। दिसंबर 2018 में 8,022 करोड़ रुपये के मुकाबले एसआईपी के माध्यम से जनवरी में म्यूचुअल फंड में 8,064 करोड़ रुपये का निवेश आया। हालाँकि एसआईपी के शानदार प्रदर्शन के बावजूद कुल शुद्ध निवेश जनवरी 2017 के बाद सबसे निचले स्तर पर रहा।
गौरतलब है कि कुल इक्विटी निवेश पूँजी भी 10.04 लाख करोड़ रुपये तक घट गयी। इसके अलावा जनवरी में शुद्ध इक्विटी प्रतिभूतियों में भी निवेश जोरदार गिरावट के साथ 6,000 करोड़ रुपये से कम आया।
कुल एयूएम पर नजर डालें तो 3,39,178 करोड़ रुपये के साथ एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एएमसी) पहले नंबर पर है। एचडीएफसी एएमसी की कुल एयूएम में से 1,36,391 करोड़ रुपये इक्विटी और 1,91,439 करोड़ रुपये डेब्ट योजनाओं में हैं, जबकि बाकी 11,348 करोड़ रुपये कंपनी की अन्य योजनाओं में आये हैं।
इसके बाद 3,16,029 करोड़ रुपये की एयूएम के साथ आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एएमसी दूसरे और 2,78,714 की एयूएम वाली एसबीआई फंड्स मैनेजमेंट तीसरे नंबर पर बरकरार है।
प्रमुख म्यूचुअल फंड कंपनियों में आदित्य बिड़ला सन लाइफ एएमसी (2,43,615 करोड़ रुपये), रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट (2,39,144 करोड़ रुपये), यूटीआई एएमसी (1,64,083 करोड़ रुपये), कोटक महिंद्रा एएमसी (1,48,057 करोड़ रुपये), फ्रेंकलिन टेम्प्लेटन एसेट मैनेजमेंट (1,20,084 करोड़ रुपये), ऐक्सिस एएमसी (87,600 करोड़ रुपये) और डीएसपी इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (78,659 करोड़ रुपये) शामिल हैं। (शेयर मंथन, 15 फरवरी 2019)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"