एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी की एयूएम घट कर 3,32,898 करोड़ रुपये

म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) उद्योग की कुल प्रबंधन अधीन संपत्ति (एयूएम) फरवरी में 0.89% की गिरावट के साथ 23.16 लाख करोड़ रुपये रह गयी।

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज (ICICI Securities) की रिपोर्ट के अनुसार मुद्रा बाजार फंडों में निवेश से एयूएम काफी प्रभावित हुई। जनवरी 2018 की समाप्ति पर कुल म्यूचुअल फंड एयूएम 23.4 लाख करोड़ रुपये थी।
फरवरी में एसआईपी (SIP) का बेहतर प्रदर्शन बरकरार रहा। फरवरी 2019 में एसआईपी के माध्यम से 8,095 करोड़ रुपये की पूँजी आयी, जो एक नया रिकॉर्ड है।
गौरतलब है कि कुल इक्विटी निवेश पूँजी मामूली बढ़त के साथ 10.07 लाख करोड़ रुपये हो गया, जो जनवरी समाप्ति पर 10.04 लाख करोड़ रुपये था।
अधिकतम एयूएम वाली म्यूचुअल फंड कंपनियों पर नजर डालें तो आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज की रिपोर्ट के अनुसार 3,32,898 करोड़ रुपये के साथ एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एएमसी) पहले नंबर पर बरकरार है। मगर जनवरी में 3,39,178 करोड़ रुपये के मुकाबले इसकी एयूएम में गिरावट आयी। एचडीएफसी एएमसी की कुल एयूएम में से 1,34,483 करोड़ रुपये इक्विटी और 1,75,301 करोड़ रुपये डेब्ट योजनाओं में हैं, जबकि बाकी 23,115 करोड़ रुपये कंपनी की अन्य योजनाओं में आये हैं।
इसके बाद 3,18,175 करोड़ रुपये की एयूएम के साथ आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एएमसी दूसरे और 2,84,261 की एयूएम वाली एसबीआई फंड्स मैनेजमेंट तीसरे नंबर पर बरकरार है।
प्रमुख म्यूचुअल फंड कंपनियों में आदित्य बिड़ला सन लाइफ एएमसी (2,43,379 करोड़ रुपये), रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट (2,25,637 करोड़ रुपये), यूटीआई एएमसी (1,57,004 करोड़ रुपये), कोटक महिंद्रा एएमसी (1,50,973 करोड़ रुपये), फ्रेंकलिन टेम्प्लेटन एसेट मैनेजमेंट (1,20,906 करोड़ रुपये), ऐक्सिस एएमसी (91,131 करोड़ रुपये) और डीएसपी इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (77,430 करोड़ रुपये) शामिल हैं। (शेयर मंथन, 12 मार्च 2019)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"