जेट एयरवेज (Jet Airways) में हिस्सेदारी बढ़ाने को तैयार हुई इतिहाद (Etihad)

खबरों के अनुसार यूएई की इतिहाद (Etihad) नकदी संकट से गुजर रही विमानन कंपनी जेट एयरवेज (Jet Airways) में हिस्सेदारी बढ़ाने को तैयार हो गयी है।

इतिहाद के इस फैसले से जेट एयरवेज के कर्जदारों को काफी राहत मिलेगी। इतिहाद द्वारा निवेश की घोषणा से जेट एयरवेज के डूबने से बचने की उम्मीद बन गयी है। नकदी संकट की वजह से विमानों को पट्टेदारों को किराया न देने के कारण जेट एयरवेज के अधिकतर विमानों का संचालन रुक गया। इसके नतीजे में कंपनी को अपनी तमाम अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द करनी पड़ी हैं।
गौरतलब है कि इतिहाद से पहले और भी कंपनियों ने जेट एयरवेज को खरीदने में दिलचस्पी दिखायी है।
नकदी संकट की वजह से जेट एयरवेज अपने 16,000 से अधिक कर्मचारियों को पूरा वेतन नहीं दे पा रही है। कंपनी के पायलटों के समूह ने मंगलवार को प्रबंधन को कानूनी नोटिस भेजा है। इस समय कंपनी का प्रबंधन स्टेट बैंक ऑऱ इंडिया की अगुवाई वाला ऋणदाताओं का समूह कर रहा है।
बीएसई में जेट एयरवेज का शेयर 260.40 रुपये के पिछले बंद स्तर के मुकाबले 260.50 रुपये पर खुल कर अभी तक के कारोबार में 257.50 रुपये के निचले स्तर तक गिरा है। करीब पौने 2 बजे कंपनी के शेयरों में 0.50 रुपये या 0.19% की वृद्धि के साथ 260.90 रुपये के भाव पर सौदे हो रहे हैं। इस भाव पर कंपनी की बाजार पूँजी 2,963.76 करोड़ रुपये की है। वहीं इसके पिछले 52 हफ्तों का शिखर 650.50 रुपये और निचला स्तर 163.00 रुपये रहा है। (शेयर मंथन, 12 अप्रैल 2019)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"