एनटीपीसी का आईओसी के साथ संयुक्त उपक्रम के गठन का ऐलान

एनटीपीसी (NTPC) और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने ज्वाइंट वेंचर यानी संयुक्त उपक्रम कंपनी के गठन का ऐलान किया है। रिन्युएबल एनर्जी के लिए दोनों कंपनियों ने करार का ऐलान किया है।

 एनटीपीसी के साथ आईओसी (IOC) ने यह करार अपने आगामी प्रोजेक्ट की पावर जरुरतों को पूरा करने के लिए किया है। 18 जुलाई को दोनों कंपनियों के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं। कंपनी ने अपने रिफाइनरीज के पावर जरूरतों को पूरा करने के लिए इस करार का ऐलान किया है। एनटीपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक गुरदीप सिंह ने कहा कि दो पावर उत्पादन करने वाली कंपनियां एक साझा उद्देश्य के लिए एक साथ आई हैं। दूसरी कंपनियों के लिए भी टीमवर्क और साझेदारी एक बेहतर उदाहरण बन सकता है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) के अध्यक्ष श्रीकांत माधव वैद्य ने कहा देश के जीवाश्म ईंधन के दो बड़ी दिग्गज कंपनियों ने ग्रीन एनर्जी की दिशा में आगे बढ़ने के लिए हाथ मिलाया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि दो महारत्न सरकारी कंपनियां अपनी क्षमता का इस्तेमाल ग्रीन एनर्जी के ग्रोथ एजेंडा को आगे बढ़ाएंगे। इसके लिए एनटीपीसी की सब्सिडियरी एनटीपीसी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड यानी (NGEL) इंडियन ऑयल को रिन्युएबल एनर्जी की आपूर्ति के लिए संयुक्त उपक्रम का गठन करेगी। आपको बता दें कि एनजीईएल एक अंब्रेला कंपनी है जिसके तहत एनटीपीसी की सभी रिन्युएबल एनर्जी कारोबार काम करती है। इंडियन ऑयल के मुताबिक रिफाइनरिज की अतिरिक्त ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए लगातार रिन्युएबल एनर्जी के उत्पादन को बढ़ाने पर फोकस जारी है। कंपनी की दिसंबर 2024 तक इस संयुक्त उपक्रम के जरिए 650 मेगा वाट रिन्युएबल एनर्जी उत्पादन का लक्ष्य है।

 

(शेयर मंथन, 19 जुलाई 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"