16 महीनों के निचले स्तर पर पहुँचा इंटरग्लोब एविएशन (Interglobe Aviation) का शेयर

साल दर साल आधार पर अप्रैल-जून तिमाही में मुनाफे में भारी गिरावट के कारण इंटरग्लोब एविएशन (Interglobe Aviation) का शेयर 16 महीनों के निचले स्तर तक फिसल गया।

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में इंटरग्लोब एविएशन या इंडिगो के मुनाफे में 96.6% की भारी गिरावट आयी है। पिछले कारोबारी साल की समान अवधि में 811.1 करोड़ रुपये से घट कर कंपनी का मुनाफा 27.8 करोड़ रुपये रुपये रह गया। इंडिगो के मुनाफे में गिरावट के दो मुख्य कारण माने जा रहे हैं, जिनमें ईंधन की कीमतों में वृद्धि और विदेशी मुद्रा प्रभाव शामिल है।
इंडिगो के विमान ईंधन व्यय 1,759.1 करोड़ रुपये से 54.3% की बढ़ोतरी के साथ 2,715.6 करोड़ रुपये पर पहुँच गये। हालाँकि इस दौरान इंडिगो की शुद्ध आमदनी 5,713 करोड़ रुपये के मुकाबले 13.2% की वृद्धि के साथ 6,512 करोड़ रुपये रही। मगर एबिटार, एयरलाइन की लाभकारिता मापने का महत्वपूर्ण तरीका, 1,961.8 करोड़ रुपये से 42.2% घट कर 1,130.1 करोड़ रुपये रह गया। इसके अलावा कंपनी की आरएएसके (उपलब्ध सीट प्रति किलोमीटर आमदनी) 3.82 रुपये से 3.1% घट कर 3.70 रुपये रह गयी, जबकि सीएएसके (उपलब्ध प्रति सीट किलोमीटर लागत) 3.08 रुपये से 19.8% अधिक 3.69 रुपये रहा।
उधर बीएसई में इंडिगो के शेयर ने 1,004.25 रुपये के पिछले बंद स्तर की तुलना में कमजोरी के साथ 926.00 रुपये पर शुरुआत की। लाल निशान में खुलने के बाद यह 891.10 रुपये के निचले स्तर तक फिसला है। साढ़े 11 के करीब यह 83.25 रुपये या 8.29% की गिरावट के साथ 921.00 रुपये पर चल रहा है। (शेयर मंथन, 31 जुलाई 2018)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"