बंधन बैंक (Bandhan Bank) को गृह फाइनेंस के अधिग्रहण के लिए मिली आरबीआई की मंजूरी

बंधन बैंक (Bandhan Bank) को एचडीएफसी (HDFC) की सहायक कंपनी गृह फाइनेंस (Gruh Finance) के अधिग्रहण के लिए आरबीआई (RBI) ने हरी झंडी दिखा दी है।

बंधन बैंक को प्रस्तावित अधिग्रहण के लिए आरबीआई से अनापत्ति प्रमाण पत्र मिल गया है। जनवरी में कोलकाता स्थित बंधन बैंक ने शेयर-स्वैप सौदे में ग्रुह फाइनेंस का नियंत्रण संभाल लिया था।
सौदे के तहत गृह फाइनेंस का अपने साथ विलय करने के लिए बंधन बैंक को एचडीएफसी को 14.9% हिस्सेदारी हस्तांतरित करनी होगी। वहीं सौदे के जरिये बंधन बैंक अपने प्रमोटर की शेयरधारिता 82% से 61% तक घटा सकेगा। इसके अलावा विलय योजना से गृह फाइनेंस में शेयरधारिता के जरिये बंधन बैंक में एचडीएफसी की 15% के करीब हिस्सेदारी होगी। इस समय एचडीएफसी की गृह फाइनेंस में 57.59% हिस्सेदारी है।

गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में आरबीआई (RBI) ने शेयरधारिता नियमों को पूरा न कर पाने के कारण बंधक बैंक के नयी शाखाएँ खोलने और इसके मुख्य कार्यकारी अधिकारी के वेतन भुगतान पर रोक लगा दी थी।

आरबीआई के लाइसेंसिंग मानदंडों के तहत किसी भी बैंक को संचालन के 3 साल के भीतर प्रमोटर हिस्सेदारी 40% तक घटाना जरूरी है। इस नियम के मद्देनजर बंधन बैंक को 23 अगस्त 2018 तक प्रमोटर हिस्सेदारी 40% घटानी थी, जिसमें यह असफल रहा।

उधर बीएसई में शुक्रवार को बंधन बैंक का शेयर 2.30 रुपये या 0.45% की गिरावट के साथ 511.05 रुपये के भाव पर बंद हुआ। इस भाव पर बैंक की बाजार पूँजी 60,971.04 करोड़ रुपये है। वहीं इसके पिछले 52 हफ्तों का शिखर 741.00 रुपये और निचला स्तर 369.15 रुपये रहा है। (शेयर मंथन, 16 मार्च 2019)

Add comment

Security code Refresh

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : नवंबर 2017 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"