वीए टेक वाबैग को सेनेगल में डिसैलिनेशन प्रोजेक्ट के लिए 14.6 करोड़ यूरो का ऑर्डर

वाटर ट्रीटमेंट सेक्टर की जानी मानी कंपनी वीए टेक वाबैग (VA Tech Wabag) को पश्चिमी अफ्रीकन क्षेत्र में डिसैलिनेशन प्रोजेक्ट के लिए ऑर्डर मिला है।

कंपनी को यह प्रोजेक्ट सेनेगल के लिए मिला है। यह प्रोजेक्ट जानी मानी कंपनी वीए टेक वाबैग को जीका (JICA) यानी जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी से फंडेड प्रोजेक्ट के लिए मिली है। प्रोजेक्ट के तहत कंपनी को रोजाना 5 करोड़ लीटर वाटर को डिसैलिनेट करना है। कंपनी को 14.6 करोड़ यूरो का ऑर्डर मिला है। इस प्रोजेक्ट के तहत इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट, ऑपरेशन और रख-रखाव शामिल है। इसके अलावा डिजाइन, इलेक्ट्रोमैकेनिकल इक्विपमेंट की आपूर्ति, प्रोजेक्ट के इंस्टॉलेशन और शुरुआत की निगरानी की जिम्मेदारी भी कंपनी के पास होगी। कंपनी के लिए खास बात यह है कि इस ऑर्डर के साथ ही पश्चिमी अफ्रीकन क्षेत्र में प्रवेश हुआ है। कंपनी पहले से ही उत्तर-अफ्रीका क्षेत्र के ट्यूनिशिया में काम कर रही है। यहां पर कंपनी रोजाना 5 करोड़ लीटर पानी के डिसैलिनेशन प्रोजेक्ट पर पहले से ही काम कर रही है। इस नए ऑर्डर से अफ्रीकन महादेश में कारोबार कंसोलिडेट हो रहा है। यह प्रोजेक्ट SONES यानी Societe Nationale Des Eaux du Senegal से मिला है जो सेनेगल की राष्ट्रीय वाटर कंपनी है। यह ऑर्डर 14.6 करोड़ यूरो का है। इस प्रोजेक्ट को जापान के टोयोटा Tsusho Corporation और फ्रांस के Eiffage Genie Civil के कंसोर्शियम के तहत विकसित किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट में कंपनी की भूमिका तकनीक और सिस्टम इंटीग्रेटर की होगी। वहीं फ्रांस की कंपनी Eiffage की जिम्मेदारी निर्माण यानी कंस्ट्रकशन की होगी। टोयोटा Tsusho को-ऑपरेशन इस प्रोजेक्ट का प्रबंधन देखेगा। जीका (JICA) यानी जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी से फंडेड इस प्रोजेक्ट का लक्ष्य सेनेगल के लोगों को स्वच्छ और स्थायी पानी की आपूर्ति का लक्ष्य है। कंपनी के मिडिल ईस्ट और अफ्रीका के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीप राज सक्सेना के मुताबिक, मजबूत अंतरराष्ट्रीय कंपीटिशन वाले माहौल में कंपनी को नए ऑर्डर मिलने से खुशी और गर्व की अनुभूति हो रही है। कंपनी लगातार नए भौगोलिक क्षेत्रों में कारोबार विस्तार पर फोकस कर रही है। यह ऑर्डर कंपनी के मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड को दर्शाता है। इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से एक ओर जहां सेनेगल के लोगों के पानी की जरुरतें पूरी होंगी वहीं कंपनी के लिए लिए यह एक रेफरेंस प्रोजेक्ट की तरह होगा।

(शेयर मंथन 04 जून, 2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"