कच्चे तेल और नेचुरल गैस की कीमतों में तेजी का रुझान - एसएमसी

कच्चे तेल की कीमतों में तेजी का रुझान रहने की संभावना हैं जहाँ निचले स्तर पर खरीदारी हो सकती है। कीमतों को 5,640 रुपये के स्तर पर रुकावट के साथ 5,560 रुपये के स्तर पर सहारा रह सकता है।

चार दिनों तक बढ़ोतरी के बाद आज तेल की कीमतों में गिरावट हुई है क्योंकि निवेशकों और व्यापारियों ने ओपेक समूह के भीतर असहमति के बाद ओपेक प्लस द्वारा महत्वपूर्ण वार्ता का इंतजार किया, जिससे प्रमुख उत्पादकों को बाजार हिस्सेदारी हासिल करने के लिए वॉल्यूम बढ़ाना पड़ सकता है। पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) और उसके सहयोगियों, ने शुक्रवार को अगस्त से दिसंबर 2021 तक उत्पादन में लगभग 2 मिलियन बैरल प्रतिदिन की वृद्धि करने और शेष उत्पादन कटौती को 2022 के अंत तक बढ़ाने के लिए मतदान किया, लेकिन संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की आपत्तियों के कारण समझौते को रोक दिया। सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री ने रविवार को ओपेक प्लस के प्रस्तावित सौदे के लिए संयुक्त अरब अमीरात के विरोध के मुकाबले पीछे हटने की माँग की और जब समूह सोमवार को फिर से बैठक करेगा तो सर्वसम्मति पाने के लिए समझौता और तर्कसंगतता का आ“वान किया। संयुक्त राज्य में, ऊर्जा कंपनियों ने पिछले चार में से तीसरे सप्ताह में तेल और नेचुरल गैस रिगों में वृद्धि की। बेकर ह्यूजेस कंपनी ने कहा कि तेल और गैस रिगों की संख्या, 2 जुलाई तक के सप्ताह में 5 रिग बढ़कर 475 रुपये हो गयी, जो अप्रैल 2020 के बाद सबसे अधिक है।

नेचुरल गैस की कीमतों में तेजी का रुझान रहने की संभावना है और कीमतों को 275 रुपये के स्तर पर सहारा और 281 रुपये के स्तर पर अड़चन रह सकता है। नेशनल ओशनिक एटमॉस्फेरिक एडमिनिस्ट्रेशन के अनुसार अगले 2 सप्ताह तक पश्चिम और उत्तर पूर्व में मौसम सामान्य से अधिक गर्म रहने की उम्मीद है (शेयर मंथन, 05 जुलाई 2021)

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"