ल्युपिन (Lupin) को नयी दवा के लिए यूएसएफडीए की मंजूरी

प्रमुख दवाई निर्माता कंपनी ल्युपिन (Lupin) को अमेरिकी स्वास्थ्य नियामक (यूएसएफडीए) से एक नयी दवा के लिए मंजूरी मिल गयी है।

ल्युपिन को दिवाल्प्रोइक्स सोडियम एक्सटेंडेड रिलीज (Divalproex Sodium Extended-Release) गोलियों के लिए यूएसएफडीए ने हरी झंडी दिखायी है, जो एक अन्य दवा कंपनी ऐबवी (AbbVie) की डेपाकोट (Depakote) का जेनेरिक संस्करण है।
इस गोली की अमेरिका में जून 2019 तक पिछले एक साल की अवधि में बिक्री करीब 15.9 करोड़ डॉलर की रही थी। दिवाल्प्रोइक्स सोडियम गोली का उपयोग दौरे को ठीक करने, द्विध्रुवी विकार का इलाज करने और माइग्रेन को रोकने के लिए किया जाता है। नयी दवा के लिए यूएसएफडीए की मंजूरी मिलने से ल्युपिन के शेयर में मजबूती आयी है।
दूसरी तरफ बीएसई में ल्युपिन का शेयर 738.80 रुपये के पिछले बंद भाव के मुकाबले आज लगभग सपाट के साथ 739.00 रुपये पर खुल कर कारोबार के दौरान 748.00 रुपये के ऊपरी स्तर तक चढ़ा।
अंत में यह 6.95 रुपये या 0.94% की बढ़ोतरी के साथ 745.75 रुपये पर बंद हुआ। इस भाव पर कंपनी की बाजार पूँजी 33,756.19 करोड़ रुपये है। वहीं इसके पिछले 52 हफ्तों का शिखर 914.00 रुपये और निचला स्तर 646.20 रुपये रहा है। (शेयर मंथन, 22 अक्टूबर 2019)

Add comment

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"