एमएफआई से 1.25 लाख रुपये तक की आय वाले ले सकेंगे ऋण - आरबीआई (RBI)

आरबीआई (RBI) ने गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियाँ - माइक्रोफाइनेंस संस्थानों (Non-Banking Financial Company - Micro Finance Institutions) या एनबीएफसी- एमएफआई से कर्ज लेने वालों का दायरा बढ़ाते हुए पारिवारिक आय सीमा बढ़ा दी है।

ग्रामीण क्षेत्रों में ऋण देने में बढ़ोतरी के उद्देश्य से आरबीआई ने इन इलाकों में एमएफआई से कर्ज लेने के लिए आय सीमा 1 लाख रुपये से बढ़ा कर 1.25 लाख रुपये कर दी है। यानी अब ग्रामीण इलाकों में 1.25 लाख रुपये तक वार्षिक आय वाले भी एमएफआई से कर्ज ले सकेंगे।
इसी प्रकार शहरी और अर्ध-शहरी क्षेत्रों के लिए यह सीमा 1.6 लाख रुपये से बढ़ा कर 2 लाख रुपये कर दी गयी है। आरबीआई ने यह फैसला एमएफआई की आर्थिक लिहाज से निचले तबके तक ऋण पहुँचाने में महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए लिया है।
इसके साथ ही आरबीआई ने ग्रामीण इलाकों में कर्ज देने की सीमा भी बढ़ी दी है। ग्रामीण इलाकों में 60,000 रुपये के बजाय 75,000 रुपये और शहरी और अर्ध-शहरी क्षेत्रों 1 लाख रुपये से बढ़ा कर 1.25 लाख रुपये तक ऋण लिया जा सकेगा। (शेयर मंथन, 09 नवंबर 2019)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"