एनसीएलएटी (NCLAT) ने रद्द की आरएचसी होल्डिंग के खिलाफ एचडीएफसी (HDFC) की याचिका

राष्ट्रीय कंपनी विधि अपील अधिकरण (National Company Law Appellate Tribunal) या एनसीएलएटी ने एचडीएफसी (HDFC) की आरएचसी होल्डिंग (RHC Holding) के खिलाफ दाखिल की गयी दिवालिया याचिका खारिज कर दी है।

न्यायमूर्ति एस जे मुखोपाध्याय की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय पीठ ने राष्ट्रीय कंपनी कानून न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) की प्रमुख पीठ के उस आदेश को बरकरार रखा, जिसमें एचडीएफसी की याचिका खारिज कर दी गयी थी। अपीलीय न्यायाधिकरण ने कहा कि एचडीएफसी की याचिका में खास कुछ नहीं है।
एचडीएफसी ने आरएचसी होल्डिंग से 41 करोड़ रुपये वसूलने के लिए एनसीएलटी का रुख किया था। आरएचसी होल्डिंग ने अप्रैल 2016 में कंपनी से 200 करोड़ रुपये का ऋण लिया था और पहली तिमाही के लिए समय पर ब्याज का भुगतान किया था, लेकिन बाद में यह बकाये के भुगतान पर चूकती गयी।
6 दिसंबर 2018 को एनसीएलटी ने कहा था कि गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी आरएचसी होल्डिंग दिवालिया कानून के दायरे में नहीं आती। इसके बाद एचडीएफसी ने एनसीएलटी के फैसले को चुनौती देने के लिए एनसीएलएटी का रुख किया था।
दूसरी ओर बीएसई में एचडीएफसी का शेयर 2,232.70 रुपये के पिछले बंद भाव की तुलना में गिरावट के साथ 2,225.65 रुपये पर खुला। अभी तक के सत्र में यह 2,220.10 रुपये के निचले स्तर तक गिरा है।
करीब सवा 3 बजे कंपनी के शेयरों में 7.70 रुपये या 0.34% की गिरावट के साथ 2,225.05 रुपये पर सौदे हो रहे हैं। इस भाव पर एचडीएफसी की बाजार पूँजी 3,83,888.11 करोड़ रुपये है। वहीं इसके पिछले 52 हफ्तों का शिखर 2,300.85 रुपये और निचला स्तर 1,646.00 रुपये रहा है। (शेयर मंथन, 10 जुलाई 2019)

Add comment

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"