जीरें में सुस्ती, धनिया में मुनाफा वसूली की संभावना - एसएमसी

हल्दी वायदा (जून) की कीमतों के 7,700-7,900 रुपये के दायरे में सीमित कारोबार करने की संभावना है।

घरेलू बाजारों में कमजोर माँग के कारण निजामाबाद में हाजिर कीमतों में गिरावट के कारण सेंटीमेंट कमजोर है। बेंचमार्क बाजार निजामाबाद में बल्ब वैरायटी के हल्दी की कीमतें 6,400-6,600 रुपये प्रति 100 किलोग्राम और फिंगर वैरायटी की कीमतें 6,800-7,000 रुपये प्रति 100 किलोग्राम के दायरे में रही। बाजार सूत्रों के मुताबिक खरीदार नयी खरीदारी को लेकर सतर्क हैं। खुदरा माँग के लिए कोई बड़ी चिंता नहीं है लेकिन औद्योगिक माँग बहुत कमजोर है। होटल, रेस्तरां और अन्य भोजनालय बंद हैं। जब यह सेक्टर खुलेगा तो माँग बढ़ेगी। बाजार में लॉकडाउन खत्म होने का इंतजार है।

जीरा वायदा (जून) की कीमतों के 13,700-13,800 रुपये के दायरे में सीमित कारोबार करने की संभावना है। उपभोक्ता केंद्रों की ओर माँग सुस्त है क्योंकि अधिकांश राज्यों में कोविड-19 संबंधित लॉकडाउन और प्रतिबंध लगाये गये हैं। गुजरात के बेंचमार्क बाजार ऊंझा में एक्सचेंज क्वालिटी का जीरा 13,500 रुपये प्रति 100 किलोग्राम पर बिक रहा है। ऊंझा बाजार में कोविड-19 मामलों में वृद्धि को नियंत्रित करने के प्रयास के तहत वैकल्पिक दिनों में नीलामी आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।
धनिया वायदा (जून) में मुनाफा वसूली होने की संभावना है और कीमतों को 6,930 रुपये के स्तर पर रुकावट रहने की संभावना है। वर्तमान परिदृश्य में, दक्षिण की मिलों की ओर से माँग का अभाव है। साथ ही राजस्थान और मध्य प्रदेश की मंडियों से दिल्ली की मसाला मिलों की खरीद में गिरावट हुई है। राजस्थान के एक प्रमुख बाजार कोटा में, पिछले 1,200 बैग की तुलना में 1,500 बैग (1 बैग= 45 किलोग्राम) आवक होने का अनुमान है। धनिया की बादामी किस्म 6,900 रुपये प्रति 100 किलोग्राम और ईगल किस्म 7,300 रुपये में बेची गयी। (शेयर मंथन, 04 जून 2021)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"