भारत का विदेशी मुद्रा भंडार पहली बार 500 अरब डॉलर के पार

पाँच जून को समाप्त हफ्ते में देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves) नये रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गया।

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) की ओर से 12 जून को जारी आँकड़ों के मुताबिक पाँच जून 2020 को खत्म हफ्ते में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 8.223 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 501.703 अरब डॉलर हो गया, जो इसका सर्वकालिक उच्चतम स्तर है। देश का विदेशी मुद्रा भंडार पहली बार 500 अरब डॉलर के पार पहुँचा है। इससे पहले 29 मई 2020 को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 3.436 अरब डॉलर की वृद्धि के साथ 493.480 अरब डॉलर हो गया था।
फॉरेक्स भंडार की सबसे प्रमुख घटक विदेशी मुद्रा संपत्ति (Foreign currency assets) इस दौरान 8.422 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 463.630 अरब डॉलर हो गयी। याद रहे कि 29 मई को समाप्त सप्ताह में यह 3.503 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 455.208 अरब डॉलर हो गयी थी।
हालाँकि देश के स्वर्ण भंडार (Gold Reserves) में कमी का सिलसिला पिछले हफ्ते भी जारी रहा। इस दौरान देश का स्वर्ण भंडार 0.329 अरब डॉलर की कमी के साथ 32.352 अरब डॉलर रह गया। 29 मई को खत्म हफ्ते में यह 0.097 अरब डॉलर की कमी के साथ 32.682 अरब डॉलर रह गया था।
वहीं विशेष आहरण अधिकार (SDRs) इस दौरान 0.010 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 1.442 अरब डॉलर के रहे। 29 मई को खत्म हफ्ते में यह बिना किसी खास बदलाव के 1.432 अरब डॉलर के रहे थे।
इस दौरान आईएमएफ (IMF) के साथ भारत का रिजर्व पोजिशन 0.120 अरब डॉलर बढ़ कर 4.278 अरब डॉलर हो गया। 29 मई को खत्म हफ्ते में यह 0.031 अरब डॉलर बढ़ कर 4.158 अरब डॉलर हो गया था। (शेयर मंथन, 13 जून 2020)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : जून 2020 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"