रेलटेल कॉर्पोरेशन (RailTel Corporation) की आईपीओ (IPO) प्रक्रिया में आयी तेजी

खबरों के अनुसार सरकार दूरसंचार इन्फ्रा सेवा प्रदाता रेलटेल कॉर्पोरेशन (RailTel Corporation) का आईपीओ (IPO) लाने की प्रक्रिया में तेजी लायी है।

सरकार की योजना रेलटेल में 25% हिस्सेदारी घटाने की है। बता दें कि मई 2019 में खबर आयी थी कि सरकार रेलटेल का आईपीओ लाने जा रही है। उस समय सितंबर तक कंपनी का आईपीओ बाजार में आने की खबर थी, मगर ताजा खबरों के अनुसार जनवरी 2020 तक रेलटेल का आईपीओ बाजार में आने की उम्मीद है।
खबर है कि सरकार लिस्टिंग प्रक्रिया के प्रबंधन के लिए विज्ञापन एजेंसियों की तलाश कर रही है। निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (डीआईपीएएम) को रेलटेल आईपीओ के लिए विज्ञापन एजेंसी के रूप में कार्य करने के लिए पूँजी बाजारों में पब्लिक ऑफरिंग में अनुभव और विशेषज्ञता वाली प्रतिष्ठित विज्ञापन एजेंसी की सेवाओं की आवश्यकता है।
सरकारी कंपनी रेलटेल का आईपीओ 300 करोड़ रुपये का हो सकता है। सरकार ने पिछले साल दिसंबर में रेलटेल के आईपीओ को हरी झंडी दिखायी थी, जिसमें इसकी 25% हिस्सेदारी का विनिवेश किया जायेगा।
मिनिरत्न पीएसयू रेलटेल देश में सबसे बड़े तटस्थ दूरसंचार बुनियादी ढांचा प्रदाताओं में से एक है, जिसके पास रेलवे ट्रैक के साथ विशेष राइट ऑफ वे (आरओडब्ल्यू) पर ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क है। कंपनी देश भर में ब्रॉडबैंड दूरसंचार और मल्टीमीडिया नेटवर्क प्रदान करती है।
बता दें कि पिछले साल दिसंबर में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 6 कंपनियों के आईपीओ को मंजूरी दी थी, जिसमें रेलटेल शामिल है। (शेयर मंथन, 07 नवंबर 2019)

Add comment

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"