जून में आईआईपी (IIP) दर गिर कर चार महीनों के निचले स्तर पर

जून 2019 में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (Index Of Industrial Production) या आईआईपी (IIP) बढ़ने की दर 2% रही, जो इसके पिछले 4 महीनों का सबसे निचला स्तर है।

आँकड़ों के मुताबिक खनन और विनिर्माण क्षेत्र के खराब प्रदर्शन से आईआईपी प्रभावित हुई। पिछले साल जून में आईआईपी वृद्धि 7% रही थी। जून से पहले फरवरी में आईआईपी बढ़ने की दर केवल 0.20% रही थी। इसके बाद मार्च में यह 2.7%, अप्रैल में 4.30% और मई में 4.60% रही थी।
सांख्यिकी मंत्रालय की ओर से जारी किये गये आँकड़ों के अनुसार पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 5.10% के मुकाबले चालू वित्त वर्ष की समान अवधि में आईआईपी वृद्धि दर घट कर 3.60% रह गयी।
जून महीने में अलग-अलग क्षेत्रों पर नजर डालें तो विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर पिछले साल जून में 6.90% के मुकाबले घट कर 1.20%, पूँजीगत वस्तु उत्पादन 9.70% से घट कर 6.5%, बिजली उत्पादन की वृद्धि दर 8.50% से घट कर 8.20%, खनन क्षेत्र की उत्पादन वृद्धि दर 6.50% से कम होकर 1.60% रह गयी। (शेयर मंथन, 10 अगस्त 2019)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"