वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में एसबीआई का मुनाफा 6.7 फीसदी घटा

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई यानी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के स्टैंडअलोन मुनाफे में 6.7% की गिरावट देखने को मिली है।

 एसबीआई का मुनाफा 7370 करोड़ रुपये के अनुमान से कम आए हैं। स्टैंडअलोन मुनाफा सालाना आधार पर 6504 करोड़ रुपये से घटकर 6068 करोड़ रुपये दर्ज हुआ है। नेट इंटरेस्ट इनकम यानी ब्याज से होने वाली कुल आय 12.9% बढ़कर 27638.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 31195.9 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है। सालाना आधार पर एनपीए (NPA) प्रोजिवजन 15.1% घटकर 5029.8 करोड़ रुपये से 4268 करोड़ रुपये दर्ज हुआ है। वहीं तिमाही आधार पर एनपीए प्रोविजन 30.9% बढ़कर 3261.7 करोड़ रुपये हो गया है। बैंक के एडवांसेज में 14.9% की ग्रोथ देखने को मिली है, वहीं डिपॉजिट ग्रोथ भी 8.73% बढ़ा है। तिमाही आधार पर कंपनी का नेट इंटरेस्ट मार्जिन यानी NIM 3.4% से घटकर 3.23% दर्ज हुआ है। बैंक का ग्रॉस एनपीए (GNPA) तिमाही आधार पर 3.97% से घटकर 3.91% पर आ गया है। वहीं नेट एनपीए (NNPA) 1.02% से घटकर 1% दर्ज हुआ है। पहली तिमाही में स्लिपेजेज यानी नए एनपीए का रेश्यो 0.43% से बढ़कर 1.38% के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं बैंक के क्रेडिट लागत में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है और यह 0.49% से बढ़कर 0.61% के स्तर पर पहुंच गया है। बैंक का बैलेंस शीट साइज 50 लाख करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया है। बैंक के क्रेडिट ग्रोथ में 14.93% की बढ़ोतरी देखने को मिली है। कॉरपोरेट लोन बुक में 10.57% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। कैपिटल एडिक्वेसी रेश्यो (CAR) 3.43% दर्ज किया गया है।

(शेयर मंथन 06 अगस्त,2022)

Add comment

 

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : डाउनलोड करें

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"