सरकारी डेब्ट ईटीएफ (Debt ETF) का प्रबंधन करेगी इडेलवाइज एसेट मैनेजमेंट

केंद्र सरकार ने अपने पहले डेब्ट ईटीएफ (Debt ETF) का प्रबंधन करने के लिए इडेलवाइज एसेट मैनेजमेंट (Edelweiss Asset Management) को नियुक्त किया है।

इडेलवाइज एसेट मैनेजमेंट सरकार के डेब्ट ईटीएफ की स्थापना, प्रबंधन और लॉन्च करेगी। इससे पहले जनवरी के पहले सप्ताह में ही खबर आयी थी कि सरकारी डेब्ट ईटीएफ के प्रबंधन के लिए इडेलवाइज एसेट मैनेजमेंट बाजी मार लेगी।
गौरतलब है कि डेब्ट ईटीएफ के प्रबंधन के लिए इडेलवाइज के अलावा एसबीआई फंड्स मैनेजमेंट, रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट, यूटीआई एसेट मैनेजमेंट और आदित्य बिड़ला सन लाइफ एएमसी ने भी आवेदन किया था।
सीपीएसई ईटीएफ (CPSE ETF) और भारत-22 ईटीएफ (Bharat-22 ETF) के सफल एफएफओ (FFO) के बाद केंद्र सरकार ने पहले डेब्ट ईटीएफ के प्रबंधन के लिए संपत्ति प्रबंधन कंपनियों (Asset Management Companies) से आवेदन माँगे थे। निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (डीआईपीएएम) की योजना अपना पहला ऋण ईटीएफ लाने की है।
बता दें कि ऋण ईटीएफ में केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्रक उद्यमों एवं सरकारी बैंकों तथा कंपनियों द्वारा अंतर्निहित प्रतिभूतियों के रूप में जारी किये बॉन्ड्स, सरकारी प्रतिभूतियाँ, ऋण पत्र और डिबेंचर शामिल होंगे।
फंड प्रबंधन में 5 साल की अनुभवी और न्यूनतम 15,000 करोड़ रुपये की तिमाही एयूएम (प्रबंधन अधीन संपत्ति) का प्रबंधन करने वाली कंपनियाँ ही ऋण ईटीएफ के प्रबंधन के लिए आवेदन करने योग्य थीं। (शेयर मंथन, 29 जनवरी 2019)

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

वीडियो सूची

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"