सर्राफा की कीमतों में तेजी का रुझान - एसएमसी

सोने की कीमतों में 53,200 रुपये के स्तर पर सहारा के साथ 54,060 रुपये तक बढ़ोतरी हो सकती है जबकि चांदी की कीमतों में 62,400 रुपये के स्तर पर सहारा के साथ 66,200 रुपये तक बढ़ोतरी हो सकती है।

डॉलर के मजबूत होने और सकारात्मक अमेरिकी आर्थिक आँकड़ों के बेहतर रहने के बाद जोखिम उठाने की क्षमता में बढ़ोतरी के कारण आज सोने की कीमतों में गिरावट दर्ज की गयी लेकिन कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के डर से सुरक्षित-निवेश के लिए माँग के कारण गिरावट सीमित रही। डॉलर सूचकांक अपने प्रतिद्वंद्वियों के मुकाबले 0.1% मजबूत हुआ है जिससे पिछले सप्ताह दर्ज दो साल के निचले स्तर से थोड़ा ऊपर हो गया है। डॉलर के मजबूत होने से अन्य मुद्राओं के धरकों के लिए सोना अधिक महँगा हो जाता है। जुलाई में अमेरिकी मैनुफैक्चरिंग गतिविधियाँ लगभग 1-1/2 वर्षों के उच्चतम स्तर पर पहुँच गयी क्योंकि कोविड-19 संक्रमणों में फिर से बढ़ोतरी के बावजूद ऑर्डर में बढ़ोतरी हुई है। बेहतर मैनुफैक्चरिंग आँकड़ों और तकनीकी शेयरों में बढ़त के बाद एशियाई शेयर मंगलवार को उच्च स्तर पर खुले।
अमेरिकी कांग्रेस में प्रमुख डेमोक्रेटों और व्हाइट हाउस के वार्ताकारों ने कल कहा कि उन्होंने एक नये वायरस बिल पर बातचीत में प्रगति की है। अमेरिकी केंद्रीय बैंकरों ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था, कोविड-19 के प्रसार में बढ़ोतरी को देखते हुये परिवारों और व्यवसायों और मास्क का व्यापक उपयोग के लिए सरकारी खर्च बढ़ाने की जरुरत है। (शेयर मंथन, 04 अगस्त 2020)

Add comment

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अगस्त 2020 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"