नये निवेश के दम पर टिकेगी शेयर बाजार की यह तेजी : देवेन चोकसी (Deven Choksey)

बाजार की यह तेजी टिकनी चाहिए, इसमें कोई मुश्किल नहीं लग रही है। बाजार में नया निवेश आना शुरू हो गया है।

पहले यह संदेह था कि क्या विदेशी निवेशकों का नया निवेश आयेगा। अब वह आना शुरू हो गया है। यह एक अच्छा कारण है बाजार की तेजी का। साथ में कंपनियों की बुनियादी हालत सुधर रही है। अर्थव्यवस्था में माँग की स्थिति सुधर रही है। ये सब सकारात्मक बातें हैं बाजार के लिए।
कुछ चुनिंदा हिस्सों के अंदर देखें तो त्योहारी दिनों में ज्यादा दोपहिया, कारें, लक्जरी कारें और सोना वगैरह की बिक्री भी सुधरी है। अर्थव्यवस्था में एक लंबित माँग रही है। अगर हम माँग के पिछले चरम स्तर से तुलना करेंगे तो आज भी माँग कमजोर ही लगेगी। लेकिन अगर हम पिछले महीने से तुलना करें तो सुधार होता दिख रहा है। इस सुधार की अनदेखी नहीं की जा सकती है। अधिकांश कंपनियाँ यह पुष्टि कर रही हैं कि माँग सुधरी है। कोई कंपनी यह रोना नहीं रो रही कि धंधा कुछ हुआ नहीं।
हम अभी नया निवेश ऑटो क्षेत्र में करने की सलाह दे रहे हैं, खास कर इस क्षेत्र के पिटे हुए शेयरों, जैसे अशोक लेलैंड में। हम कॉर्पोरेट बैंकों, जीवन बीमा और एनबीएफसी को चुनने के लिए कह रहे हैं, खास कर बड़ी डिजिटल एनबीएफसी कंपनियों को। कुछ अच्छी गुणवत्ता वाले मँझोले शेयरों में भी हम खरीदारी कर रहे हैं, जैसे टाटा एलेक्सी, स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज, टीवी18, नेटवर्क18 आदि कंपनियाँ।
हालाँकि मुझे नहीं लगता कि यह बाजार आगे एक गिरावट के बिना ही बहुत ऊपर चला जायेगा। ऐसी एक गिरावट तो आयेगी, लेकिन उससे घबराने की जरूरत नहीं है। उस गिरावट के दौरान बाजार कहाँ सहारा लेता है, वह बड़ी बात है। मुझे लगता है कि बाजार में भरोसा वापस लौट रहा है। मँझोले शेयरों में भी अब खरीदारी चालू हुई है। जो व्यक्ति निवेश करने के लिए बैठा था, उसने ऊपरी चाल देखते ही निवेश करना शुरू कर लिया है।
बाजार में जो गिरावट आ सकती है, उसका कोई पहले से संकेत देखना मुश्किल होगा, क्योंकि गिरावट पहले से बता कर नहीं आती है। इसलिए जो मौजूदा तेजी में मुनाफावसूली के बारे में सोच रहे हों, उन्हें बाजार में बेचने का सही समय चुनने के बदले उन्हें मिल रहे कुल लाभ पर ध्यान देना चाहिए। जैसे अगर आपका लक्ष्य हो छोटी अवधि में 15-20% मुनाफा पाने का, और उतना मुनाफा मिल रहा हो तो पैसा निकाल लें। बाजार में एकदम सही समय चुनना छोड़ दें। यही सुरक्षित रणनीति होगी। वहीं नया निवेश करना हो तो चुनिंदा शेयरों में पैसा लगाना चाहिए।
देवेन चोकसी, एमडी, केआर चोकसी सिक्योरिटीज (Deven Choksey, MD, KR Choksey Securities)

(शेयर मंथन, 31 अक्टूबर 2019)

Add comment

कंपनियों की सुर्खियाँ

निवेश मंथन : अप्रैल 2019 अंक डाउनलोड करें

शेयर मंथन पर तलाश करें।

निवेश मंथन : ग्राहक बनें

Subscribe to Share Manthan

It's so easy to subscribe our daily FREE Hindi e-Magazine on stock market "Share Manthan"